विश्व जंनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है | World Population Day

विश्व जनसंख्या दिवस कब से मनाया जाता है| विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है| विश्व जनसंख्या दिवस मनाने से क्या फायदा है|विश्व जनसंख्या दिवस का थीम क्या होता है|विश्व जनसंख्या दिवस कैसे मनाया जाता है|
विश्व जनसंख्या दिवस पुरे विश्व में 11 जुलाई को प्रतिवर्ष मनाया जाता है। विश्व जनसंख्या दिवस मनाने के पीछे का मुख्य कारण है कि दिन प्रतिदिन जनसंख्या में हो रहे तेजी से बढोतरी के बारे में लोगों को अवगत कराना तथा अधिक जनसंख्या से होने वाले नुकसान के बारे में जरूरी जानकारी देना। बढ़ती जनसंख्या से कई तरह के नुकसान होने का संकेत मिलता है। विश्व जनसंख्या दिवस कब से मनाया जाता है? विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है? विश्व जनसंख्या दिवस मनाने से क्या फायदा है? विश्व जनसंख्या दिवस का थीम क्या होता है? विश्व जनसंख्या दिवस कैसे मनाया जाता है? विश्व जनसंख्या दिवस मनाने से आम आदमी पर क्या प्रभाव पड़ता ह? इसके अलावा और भी तमाम जानकारियां इस पोस्ट में आपको देखने को मिलेगा।

विश्व जनसंख्या दिवस कब से मनाया जाता है| विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है| विश्व जनसंख्या दिवस मनाने से क्या फायदा है|विश्व जनसंख्या दिवस का थीम क्या होता है|विश्व जनसंख्या दिवस कैसे मनाया जाता है|
World Population Day

विश्व जनसंख्या दिवस प्रत्येक वर्ष 11 जुलाई को मनाने का प्रथा 1989 मे शुरू हुआ था। संयुक्त राष्ट्र विकास परिषद के कार्यकर्ता ने यह पाया कि 11 जुलाई 1989 तक विश्व का जनसंख्या 5 अरब से ज्यादा हो सकता है। जनसंख्या के इस वृद्धि को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र विकास परिषद ने प्रतिवर्ष 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाने का ऐलान किया। बढते जनसंख्या के कारण होने वाले नुकसान से बचने के लिए ये कदम उठाना उस समय काफी जरूरी था। अधिक जनसंख्या के कारण कई समस्या भी देखने को मिलता है जैसे गरीबी, अशिक्षा, बेरोजगारी, प्रदूषण इत्यादि। जनसंख्या दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य है बढती हुए जनसंख्या को नियंत्रित करना।

विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है

प्रत्येक वर्ष विश्व जनसंख्या दिवस 11 जुलाई को लगभग 40 वर्षों से मनाया जाता है। इस विशेष दिवस को अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग अंदाज में मनाया जाता है। लेकिन सभी का मुख्य उद्देश्य एक ही रहता हैं की जनसंख्या वृद्धि से संबंधित जानकारी देना और इसे रोकने का उल्लेख करना। विश्व जनसंख्या दिवस को कुछ राज्यों में नुक्कड़ नाटक के द्वारा मनाया जाता है। इस विशेष दिवस के दिन स्कूल, काॅलेज, यूनिवर्सिटी इत्यादि सभी जगह इसके बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा किया जाता हैं। इस विशेष दिवस के अवसर पर आम आदमी को परिवार नियोजन, लैंगिक समानता, मानवाधिकार आयोग, शिक्षा, कृषि, मातृत्व और स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दिया जाता है।

विश्व जनसंख्या दिवस कब से मनाया जाता है| विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है| विश्व जनसंख्या दिवस मनाने से क्या फायदा है|विश्व जनसंख्या दिवस का थीम क्या होता है|विश्व जनसंख्या दिवस कैसे मनाया जाता है|
विश्व जनसंख्या दिवस 

इस विशेष दिवस को जो राज्य मे नुक्कड़ नापक के द्वारा मनाया जाता है उस नाटक का भी विषय यही रहता हैं। परिवार जितना छोटा रहता है उतना ही सुखी सम्पन्न रहता हैं और शिक्षित रहता है। बड़ा परिवार बहुत कम शिक्षित हो पाता है यह सब का कारण है जनसंख्या में तेजी से वृद्धि। इस विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर हमलोंग जनसंख्या पर नियंत्रण का संकल्प लेते तो जरूर है परंतु इसे भूल जाते हैं जिसका परिणाम हमारे आने वाले पीढ़ी को भुगतना पड़ता है। मैं इस लेख के माध्यम से आप सभी को जागरूक करने का एक मुहिम छेड़ने जा रहा हूँ। मुझे पता है कि आप एक शिक्षित और जिम्मेदार व्यक्ति हैं जिसके कारण अब आपके उपर ये जिम्मेदारी बनता हैं कि आप इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा दोस्तों, मित्रों और रिश्तेदारों तक पहुँचाने में हमारा मदद करें और लोगों को जागरूक करें। विश्व जनसंख्या दिवस के बारे में इस लेख में विस्तार पूर्वक चर्चा किया गया है और प्रयास किया गया है कि विश्व जनसंख्या दिवस के बारे में सभी जानकारी को यहाँ पर साझा किया जाए। यदी कुछ लिखने भूल हो गया हो या रह गया हो तो कृपया मुझे सूचित जरूर करें।

विश्व जनसंख्या दिवस मनाने से क्या फायदा है


विश्व का जनसंख्या दिन प्रतिदिन काफ़ी तेजी से बढते जा रहा। इस बढ़ती जनसंख्या के कारण हमें बहुत से नुकसान का भी सामना करना पड़ता है जैसे:- बेरोजगारी, जिस परिवार का जनसंख्या ज्यादा है उस परिवार का मुखिया सभी बच्चों को उच्च शिक्षा नहीं दे पाता हैं जिसके कारण अशिक्षा और बेरोजगारी का भी समस्या उत्पन्न हो जाता है। यह बात स्वाभाविक है कि परिवार में एक व्यक्ति कमाने वाला हो और बाकी कुछ नहीं करता हो तो उसके उपर बोझ भी बड़ा ही होगा। बढ़ती महंगाई का भी मुख्य कारण जनसंख्या ही हैं। ये सभी समस्याओं को हम करने का जो माध्यम है वो हैं जनसंख्या पर नियंत्रण, लेकिन जनसंख्या पर नियंत्रण करना इतना आसान भी नहीं है क्योंकि जनसंख्या पर नियंत्रण तभी संभव है जब लोग शिक्षित होंगे। अभी के समय में सभी को शिक्षित करना भी संभव नहीं है।

विश्व जनसंख्या दिवस कब से मनाया जाता है| विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है| विश्व जनसंख्या दिवस मनाने से क्या फायदा है|विश्व जनसंख्या दिवस का थीम क्या होता है|विश्व जनसंख्या दिवस कैसे मनाया जाता है|
जनसंख्या दिवस 

वैसे राज्य सरकार और केन्द्र सरकार ने बहुत ऐसे योजना चलाए है जिससे शिक्षा का स्तर में भी काफ़ी सुधार देखने को मिलता है। जैसे जैसे हमारे देश में शिक्षा का स्तर में वृद्धि हो रहा हैं उसी स्तर से जनसंख्या वृद्धि का भी ग्राफ नीचे के तहत गिरते हुए नजर आ रहा है। विश्व जनसंख्या दिवस मनाने का मकसद सिर्फ यही है कि आम आदमी को इसके बारे में पूर्ण जानकारी दिया जाय। ताकि सभी लोग जनसंख्या वृद्धि से होने वाले नुकसान को समझ सके। कुछ ऐसे भी व्यक्ति है जो पढ़े लिखे नहीं है और उन्हें किताबी बात समझ में नहीं आता हैं वैसे लोग के लिए विश्व जनसंख्या दिवस पर नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया जाता हैं और इस नाटक के द्वारा जनसंख्या वृद्धि से होने वाले नुकसान को बताया जाता है और जनसंख्या वृद्धि दर पर नियंत्रण करने का पूर्ण जानकारी दिया जाता है। विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर अलग-अलग देशों और अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग अंदाज में मनाया इसे मनाया जाता है। कहीं पर नाटक के द्वारा विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है तो कही नाच का प्रोग्राम किया जाता हैं। सभी तरह के प्रोग्राम का एक ही मकसद रहता हैं कि जनसंख्या वृद्धि दर पर नियंत्रण।

विश्व जनसंख्या दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य 

  • यह दिवस महिला और पुरुष दोनों के सशक्तिकरण को मजबूत करने के लिए मनाया जाता है। 
  • महिला और पुरुष दोनों को अपनी जिम्मेदारी के प्रति जागरूक करने के लिए मनाया जाता है ।
  • कम उम्र में शादी होने के कारण उत्पन्न समस्या के बारेमें जागरुकता फैलाने के लिये मनाता जाता हैं। 
  • शादी शुदा परिवार को अनचाहे प्रेग्नेंसी को रोकने के विषयों पर गंभीरता से चर्चा किया जाता हैं।
  • समाज में ग़ैर नियम पुर्वक लैंगिक समस्या को रोकने का तथा इससे होने वाले नुकसान को बताया जाता है। 
  • समय से पहले माॅ बनने से स्वास्थ्य पर पडने वाले नुकसान के बारे में बताया जाता है। 
  • गैर नियम पुर्वक यौन संबंध स्थापित करने से होने वाले नुकसान के बारे में बताया जाता है।
  • कम उम्र में शादी करने पर कानूनी कार्रवाई और सजा के बारे में बताया जाता है। 
  • लड़की को घरेलू हिंसा व प्रताड़न से संबंधित कानून के बारे में बताया जाता है। 
  • महिला सशक्तिकरण, परिणाम नियोजन, मानवाधिकार मातृत्व और शिक्षा संबंधित जानकारी दिया जाता है। 


नोट:- मैं इस लेख के माध्यम से आप सभी को जागरूक करने का एक मुहिम छेड़ने जा रहा हूँ। मुझे पता है कि आप एक शिक्षित और जिम्मेदार व्यक्ति हैं जिसके कारण अब आपके उपर ये जिम्मेदारी बनता हैं कि आप इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा दोस्तों, मित्रों और रिश्तेदारों तक पहुँचाने में हमारा मदद करें और लोगों को जागरूक करें। विश्व जनसंख्या दिवस के बारे में इस लेख में विस्तार पूर्वक चर्चा किया गया है और प्रयास किया गया है कि विश्व जनसंख्या दिवस के बारे में सभी जानकारी को यहाँ पर साझा किया जाए। यदी कुछ लिखने भूल हो गया हो या रह गया हो तो कृपया मुझे सूचित जरूर करें। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Need Help? Chat with us