टाइटल सूट का मुकदमा कैसे करें | How to file title Suit

आज हमलोग बात करेगें यदी आपका नाम, या आपका पिताजी का नाम, या आपका दादाजी का नाम खतियान में नहीं है तो उस परिस्थिति में आपके पास कौन-कौन सा कानूनी अधिकार है जिसके सहारे आप प्रॉपर्टी में हिस्सा ले सकते हैं। कोर्ट में अभी बहुत ऐसे विचाराधीन मुकदमा काफ़ी समय से लंबित हैं जिसमें खतियान में नाम नहीं है। खतियान में नाम नहीं होने पर अन्य फरिक आपको प्रॉपर्टीमें हिस्सा देने से रोक सकता हैं। अब हमलोग जान लेते हैं कि खतियान में नाम गलती होता कैसे हैं और इसको सुधार करने का प्रक्रिया क्या है। जिस समय सर्वे करवाया जा रहा था ये गलती उसी समय का हैं। हो सकता है हैं कि सर्वे करने वाले कर्मचारियों के द्वारा भूलवश गलती हो गया हो या आपका फरिक जानबूझकर ये गलती किया हो ताकि उस प्रॉपर्टी में आपको हिस्सा देने से रोका जा सके। इस समस्या से निपटने के लिए आपको टाइटल सूट का मुकदमा दर्ज करना होगा।

टायटल सूट का मुकदमा

टायटल सूट का मुकदमा कैसे करें

आपको सबसे पहले यह पता लगाना होगा कि खतियान में नाम किस समय और कैसे गलती हुआ है ताकि आप उस बात का उल्लेख कोर्ट में कर सके। यह भी गलती आपको ढूँढना होगा कि खतियान में किसका नाम नहीं है जैसे इसी लेख में उपर उल्लेख किया गया है। गलती ढूँढने के पश्चात आपको सबसे पहले एक वंशावली तैयार करना होगा। वंशावली आप कोर्ट में ही कोई टाइपीस्ट से बनवाए। वंशावली बनाना काफ़ी आसान है पाँच से दस मिनट में बन जाएगा और इसे बनाने में ₹100-₹200 तक का खर्च आएगा। उसके बाद आपको जो जमीन पर हिस्सा नहीं दि जा रहा है उसका कागजात तैयार करना होगा । कागजात में आपको केवाला और रशीद काफ़ी जरुरी हैं इस कागजात के बिना आपका मुकदमा मजबूत नहीं होगा। कोई भी जमीन का रशीद और केवाला ऑनलाइन डाउनलोड कैसे करेंगे इसके बारे में पहले ही पोस्ट इस वेबसाइट पर प्रकाशित किया गया आप उसका मदद ले सकते हैं। उसके बाद आप कोई प्रॉपर्टी संबंधित वकील के सहारे मुकदमा दर्ज करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *