Money Recovery Suit

आजके इस पोस्ट में हमलोगों बात करेगें यदी आप कोई व्यक्ति से जमीन या फिर कोई और प्रॉपर्टी खरीदने का बात किये है और पैसा जमा कर दिये हैं तो उस पैसा को वापस कैसें किया जाएगा। यहाँ पर पैसा वापस करने का दो ही कारण हो सकता है पहला यह कि प्रॉपर्टी का मालिक आपको जमीन लिखने से मुकर गया है और दूसरा यह कि आपको वह जमीन खरीदने का मन अब नहीं है और आप अपना पैसा वापस प्राप्त करना चाहते हैं। (यह भी पढ़े:- जमीन का रजिस्ट्री को कैंसिल कैसे करें )

Money Recovery

यदी आप प्रॉपर्टी का मालिक से प्रॉपर्टी खरीदने का बात किये है और पैसा जमा कर दिये हैं और जमीन का मालिक उस प्रॉपर्टी को आपको रजिस्ट्री करने को तैयार हैं परन्तु आप उस प्रॉपर्टी को अब खरीदना नहीं चाहते हैं अपना पैसा वापस प्राप्त करना चाहते हैं तो ऐसे परिस्थिति में कानून आपका मदद नहीं करेगा आप उससे प्रेम पुर्वक पैसा मांग सकते हैं। यदी आप प्रॉपर्टी खरीदना चाहते हैं और प्रॉपर्टी का मालिक आपको जमीन लिखने से मना कर दिया है और आपने पैसा जमा कर दिये हैं तो ऐसे परिस्थिति में दो ही स्थिति हो सकता है कि आपने पैसा देते समय एग्रीमेंट बनाया होगा या फिर कोई सबूत आपके पास पैसा देने का होगा या फिर आपने पैसा मौखिक दिया और आपके पास कोई साक्ष्य नहीं हैं। अब चलिए हम लोग बारी बारी से दोनो स्थिति को समझते हैं। ( यह भी पढ़े:- एग्रीमेंट होने के बाद जमीन नहीं लिखे तो क्या करें)

पैसा देने का सबूत है

यदी आपके पास पैसा देने का सबूत है तो ऐसे परिस्थिति में आपको घबराने का कोई जरुरत नहीं है आपको बता दे कि आप C.P.C का Order 39 का रुल 1 & 2 के तहत सिविल कोर्ट में एक परिवाद दर्ज करें प्रॉपर्टी का मालिक के उपर। परिवाद दर्ज करने के बाद प्रॉपर्टी का मालिक उस प्रॉपर्टी को न तो किसी को बेच पाएगा और न ही उस प्रॉपर्टी में किसी प्रकार का कोई बदलाव कर पाएगा। ऐसे परिस्थिति में यहाँ पर प्रॉपर्टी के मालिक के पास दो ही रास्ता बचेगा । पहला यह कि उस प्रॉपर्टी का रजिस्ट्री आपको कर दे या फिर आपका पैसा वापस कर दें। आपको बता दे कि यहाँ पर आप कोर्ट को यह बात बता सकते हैं कि उस प्रॉपर्टी को खरीदने के लिए आपने बहुमूल्य वस्तु को बेच दिए ऐसे परिस्थिति में आपका जितना पैसा लगा है उसका दोगूना पैसा आपको वापस मिलेगा। ( यह भी पढ़े:- जमीन खरीदने के लिए एग्रीमेंट कैसे बनाये)

पैसा देने का साक्ष्य नहीं हैं

यदी आपके पास पैसा देने का साक्ष्य नहीं हैं तो ऐसे परिस्थिति में आपको सबसे पहले साक्ष्य को तैयार करना होगा। जबतक आप साक्ष्य को तैयार नहीं करेंगे तबतक आपको पैसा वापसी में समस्या आ सकता हैं। यहाँ पर आप वर्तमान स्थिति को मद्देनजर रखते हुए साक्ष्य को तैयार कर सकते हैं। आप प्रॉपर्टी का मालिक से फोन पर बात करें और पैसा वापस करने को कहें या फिर जमीन रजिस्ट्री करने को कहें और इस पुरा बातचीत को अपने मोबाइल में रिकॉर्ड करें। एविडेंस एक्ट का धारा 61 के अनुसार एविडेंस दो प्रकार के होते हैं (1) First Avidance :-  इसके तहत सबूत के लिए कागजात और कोई भी महत्वपूर्ण दस्तावेज (RTI) , वीडियो और ऑडियो रिकॉर्डिंग आता है। (ये साक्ष्य काफी मजबूत साक्ष्य होता है) एविडेंस एक्ट 62 में इसका विश्लेषण किया गया है।  (2) Secondary Avidance:- इसके तहत मौखिक गवाह को रखा गया है। ( यह भी पढ़े:- ऑडियो और विडियो रिकॉर्डिंग का कोर्ट में मान्यता)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *